राहुल के आने की भनक नहीं, ये कांग्रेस में एक से कई पार्टियां बनने के संकेत

जिन लोगों ने अपनी पार्टी को भी नहीं बख्शा हो, वे दूसरों को क्या छोड़ेंगे। यह बात विधानसभा क्षेत्र घुमारवीं के भराड़ी में वीरवार को पहुंचे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कही। उन्होंने कांग्रेस नेताओं को सलाह दी कि प्रदेश सरकार के कामकाज में मीन-मेख निकालने से पहले वे कांग्रेस शासित राज्यों की सरकारों को उनकी कमियां बताएं। हाल ही में प्रदेश आए राहुल गांधी के हिमाचल दौरे पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं को भी उनके आने की भनक नहीं लग पाई, यह भविष्य में कांग्रेस की एक से कई पार्टियां बनने के साफ संकेत हैं।

व्यवस्था पर : कोरोना काल में भी कांग्रेसी नेता करते रहे राजनीति
सरकार ने कोरोना से बचाव के लिए मास्क, सेनेटाइजर व पीपीई किटों आदि की पुख्ता व्यवस्था की। जरूरतमंदों को राशन व भोजन उपलब्ध करवाया गया। दूसरे राज्यों के लोगों को हिमाचल से उनके घर भेजने की व्यवस्था भी की गई। सरकार ने इस पर 13 करोड़ रुपये खर्च किए। कांग्रेस नेताओं ने संकट की इस घड़ी में भी राजनीति व मौकापरस्ती का कोई मौका नहीं छोड़ा। उसके नेताओं ने अपने पार्टी हाईकमान को 12 करोड़ का झूठा बिल भेज दिया।

वेंटिलेटर पर: पहले प्रदेश के पास सिर्फ 60 वेंटिलेटर थे, मोदी सरकार ने 500-500 मुहैया करवाए

जयराम ठाकुर ने कहा कि कोरोना महामारी पूरे विश्व के सामने एक नई चुनौती थी। इससे लड़ने का अनुभव किसी के पास नहीं था। इसके बावजूद कांग्रेस नेता ऐसी सलाहें देते रहे, मानो उनके पास कोरोना से लड़ने का लंबा अनुभव रहा हो। हिमाचल में ज्यादातर समय कांग्रेस सत्ता में रही, लेकिन कोरोना के दस्तक देने तक प्रदेश के पास महज 60 वेंटिलेटर थे। मोदी सरकार ने कोरोना महामारी से निपटने के लिए 500-500 वेंटिलेटर व ऑक्सीलिनेटर मुहैया करवाए।

हिमाचलियों की वापसी: पहले अनदेखी का लगाया आरोप, मदद करने पर भी कांग्रेस ने आलोचना ही की
सीएम ने कहा कि कोरोना के चलते लगाए गए लाॅकडाउन की वजह से हिमाचल के हजारों युवा व अन्य लोग बाहरी राज्यों में फंस गए। प्रदेश सरकार द्वारा उनकी घर वापसी के लिए स्पेशल बसों व ट्रेनों का इंतजाम करने पर कांग्रेस नेता इसे खतरनाक बताते हुए इसकी आलोचना करने लगे, जबकि इससे पहले यही नेता कहते थे कि बाहरी राज्यों में फंसे लोगों को उनकी हालत पर छोड़ दिया गया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
These are not signs of Rahul's arrival, these are signs of forming multiple parties in Congress


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jWtdJa
via Dainik Bhaskar

Post a comment

0 Comments